राष्ट्रीय

खतरनाक है ब्लैक फंगस, आंख तक निकलवानी पड़ सकती है, जानिए बचने के तरीके

डेस्क: देश अभी तक कोरोना महामारी से उभरा भी नहीं है कि अब एक नई बीमारी म्यूकरमाइकोसिस यानी ब्लैक फंगस ने दस्तक दे दी है।

ब्लैक फंगस को आंख नाक गले व फेफड़ों के लिए खतरा बताया जा रहा है। विशेषज्ञों की माने तो यह हमारे इंडियन को ही हमारे शरीर का दुश्मन बना देता है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने ब्लैक फंगस के शुरुआती लक्षणों को पहचानने और इससे बचने की सलाह लोगों को दी है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल में ट्वीट करके इसके बारे में जागरूकता फैलाने की कोशिश की।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र में ब्लैक फंगस के कई मरीज देखे गए हैं। इसके अलावा भी देश के कई अन्य हिस्सों में इसके कुछ मरीज सामने आए हैं।

क्या है ब्लैक फंगस?

ब्लैक फंगस फंगल इंफेक्शन है जिसे कोरोनावायरस फिगर करता है। विशेषज्ञों का कहना है कि यह उन लोगों में आसानी से फैल जाता है जो पहले से किसी न किसी बीमारी से जूझ रहा हो।

साथ ही जिन लोगों का इम्यून सिस्टम कमजोर है, उन्हें इससे ज्यादा खतरा बताया जा रहा है। क्योंकि उन लोगों में इंफेक्शन से लड़ने की क्षमता कम होती है।

क्या है लक्षण?

यदि बात करें इसके लक्षणों की तो इसके कई तरह के लक्षण देखे जाते हैं। इन लक्षणों में मुख्य आंखों में लाल पन या दर्द, बुखार, सिर दर्द, खांसी, सांस में तकलीफ, उल्टी में खून इत्यादि है।

कैसे होती है यह बीमारी?

विशेषज्ञों की मानें तो हवा में फैले रोका नोट संपर्क में आने से किसी भी व्यक्ति को फंगल इंफेक्शन हो सकता है। ब्लैक फंगस किसी इंसान के स्किन पर विकसित हो सकता है।

क्या है बचने के उपाय?

इस बीमारी से बचने के लिए मास्क पहन कर आना अति आवश्यक है। साथ ही धूल भरे एक टीचर वाले जगहों में जाते वक्त शरीर को अच्छी तरह से ढकना भी आवश्यक है।

इससे बचने के लिए साफ सफाई का ध्यान रखें। साथ ही शुगर लेवल को भी इंटेंस रखें और स्टेरॉयड का कम से कम इस्तेमाल करें। उपायों को अपनाकर फ्लैट फंगस को मात दिया जा सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker