राष्ट्रीय

स्वास्थ्य मंत्रालय का बड़ा ऐलान, दिसंबर तक देश के पास होगी वैक्सीन की इतनी खुराक

 

डेस्क: कोरोना महामारी के बीच कोरोनावायरस के प्रकोप से बचने का एकमात्र उपाय वैक्सीन ही है। वैक्सीनेशन को ही इस वायरस के संक्रमण से बचने का एकमात्र जरिया माना जा रहा है। सरकार वैक्सीनेशन के ऊपर काफी जोर दे रही है।

कई जगहों पर जागरूकता की कमी के कारण लोग वैक्सीनेशन से डर रहे हैं। तो कहीं लोगों के वैक्सीनेशन के लिए वैक्सीन कम पड़ जा रहे हैं। वैक्सीन की कमी देश में एक बहुत बड़ी समस्या बनकर उभरी है।

इस बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने दावा किया है कि इस साल दिसंबर के अंत तक देश में 216 करोड़ वैक्सीन उपलब्ध हो जाएंगे। स्वास्थ्य मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार कई नए वैक्सीन इस वक्त परीक्षण से गुजर रहे हैं। परीक्षण पूरा होने के बाद ये वैक्सीन उपयोग में लाए जा सकेंगे।

vaccination in india

साथ ही उनका कहना है कि अगस्त से वैक्सीन के उत्पादन में भी बढ़ोतरी की जाएगी। अतः दिसंबर के अंत तक देश में कोरोना वैक्सीन के लगभग 216 करोड़ डोज उपलब्ध हो जाएंगे।

बता दें कि सिरम इंस्टीट्यूट ने दिसंबर तक कोरोना वैक्सीन के 20 करोड़ खुराक देने की बात कही है। इसके अलावा भी जेनोवा कंपनी भारत में टीका तैयार कर रही है जो फरवरी तक उपलब्ध हो जाएंगे। भारत बायोटेक भी बच्चों को दिए जाने के लिए नेजल स्प्रे तैयार कर रही है।

इन सबके अलावा कई और कंपनियां हैं जो भारत में टीका उपलब्ध करवाने का काम कर रही है। इन सभी को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह दावा किया है दिसंबर तक बड़ी संख्या में वैक्सीन उपलब्ध हो जाएंगे जिसके बाद टीकाकरण में तेजी आएगी।

हालांकि विशेषज्ञों ने मंत्रालय के इस तरह के दावों पर प्रश्न खड़े कर दिए हैं। उनके अनुसार वैक्सीनेशन की राह में सरकार से कई बड़ी गलतियां हुई है। ऐसे में इस तरह के बयान मंत्रालय की तरफ से आना समझ से परे है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker