राष्ट्रीय

क्या ममता बनर्जी 2024 में प्रधानमंत्री बन सकती है? जानिए क्या कहते हैं विशेषज्ञ

 

डेस्क: राजनीति में कुछ भी संभव है इस बात को नकारा नहीं जा सकता है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री आगे चलकर देश का प्रधानमंत्री भी बन सकती हैं। प्रधानमंत्री बनने की रेस में सभी विपक्षी दलों में यदि कोई सबसे आगे हैं तो वह है ममता बनर्जी। हालांकि इस विषय में राजनीतिक विशेषज्ञों का एकमत नहीं है। कई राजनीतिक विशेषज्ञ उन्हे भविष्य के प्रधानमंत्री के तौर पर देखते हैं तो कई विशेषज्ञों का मानना है कि यह उतना आसान भी नहीं है।

क्यों किए जाते हैं ऐसे दावे?

ममता बनर्जी का लगातार दिल्ली का दौरा करना व राज्य की राजनीति से निकलकर राष्ट्रीय राजनीति की ओर बढ़ना इस बात की ओर संकेत देते हैं कि वह 2024 के आम चुनावों की तैयारी में लग चुकी है। देश के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फिर एक बार सत्ता में ना आ सके इसके लिए उन्होंने सभी विपक्षी दलों का आह्वान किया है। ऐसा ही कुछ उन्होंने 2019 के आम चुनाव के पहले भी किया था। लेकिन उस दौरान सभी विपक्षी दलों के आपसी मतभेद के कारण यह संभव नहीं हो सका था।

विपक्षी नेताओं का मिल रहा समर्थन

इस बार ममता बनर्जी अपने लक्ष्य को लेकर साफ हैं। कई विशेषज्ञों का मानना है कि 2014 के चुनाव के दौरान भाजपा उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के खिलाफ प्रभावशाली विरोधियों की कमी थी। इस वजह से वह 2014 के लोकसभा चुनाव में आसानी से जीत गए। जब इस विषय पर ममता बनर्जी का ध्यान गया तो 2018 के लिए वह गैर भाजपा और गैर कांग्रेसी पार्टियों को एकजुट करके तीसरा मोर्चा बनाने की तैयारी में जुट गई थी। ऐसा करके वह कई सम्मानित पार्टियों के सदस्यों का समर्थन पाने में सफल रही। लेकिन कोई एक चेहरा उभर कर सामने नहीं आ सका जिसे प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया जा सके। इस वजह से 2018 में इस महा गठबंधन को सफलता नहीं मिली।

Mamata-Banerjee's-alliance-with-all-oposition-parties

अगला टारगेट 2024 का चुनाव

इस असफलता के बाद भी उन्होंने प्रधानमंत्री पद का सपना देखना नहीं छोड़ा फिर एक बार वह सभी क्षेत्रीय दलों के नेताओं के साथ संपर्क साधने में जुट गई। ऐसा करते हुए उन्हें केजरीवाल, लालू और अखिलेश यादव जैसे कई दिग्गज नेताओं का समर्थन भी मिला। अब उनका अगला टारगेट 2024 का लोकसभा चुनाव है। ध्यान देने वाली बात यह है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद से ही ममता बनर्जी, नरेंद्र मोदी के खिलाफ एक प्रभावशाली चेहरा बनकर उभरी है।

बंगाल की जनता के बीच प्रभावशाली है ममता

यह कहना गलत नहीं होगा कि पश्चिम बंगाल के लोगों के मन में ममता बनर्जी का एक अलग स्थान है। यहां के लोग उन्हें अपना नेता मानते हैं क्योंकि उन्होंने शुरुआत से ही ममता बनर्जी का संघर्ष देखा है। जब ममता बनर्जी ब्रिगेड में किसी सभा का आयोजन करती है तो राज्य के अलग-अलग हिस्सों से लोग उनके भाषण को सुनने के लिए वहां पहुंचते हैं। राज्य के युवाओं में भी ममता बनर्जी के प्रति अलग उत्साह देखने को मिलता है। लेकिन राज्य के बाहर निकलते ही वह इतनी प्रभावशाली नहीं रहती हैं जितना वह राज्य के अंदर है। यही कारण है कि उन्हें अन्य राज्यों के क्षेत्रीय पार्टियों का सहारा लेना पड़ रहा है।

राज्य के बाहर नहीं है अस्तित्व

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद हुए के कारण ममता बनर्जी पर कई गंभीर आरोप लगाए गए लेकिन यह आरोप उनकी छवि को धूमिल करने में सफल नहीं हो सके। उनके साधारण वेशभूषा और सरल जीवनयापन ने उन्हें मध्यमवर्गीय लोगों का समर्थन दिलाया है। बेशक बंगाल की राजनीति में उनका एक अलग स्थान है। लेकिन जब राज्य से निकलकर राष्ट्रीय राजनीति की बात आती है तो दूर-दूर तक कहीं भी ममता बनर्जी का प्रभाव देखने को नहीं मिलता है।

will-Mamata-Banerjee-become-pm-of-india

उनका बयान बन सकता है परेशानी का कारण

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले जब अलग-अलग राज्यों के भाजपा के नेता बंगाल आकर चुनाव प्रचार करते थे तो ममता बनर्जी उन्हें बाहरी कह कर संबोधित करती थी। लेकिन अब 2024 के लोकसभा चुनाव के दौरान ममता अलग-अलग राज्यों में चुनाव लड़ने वाली है। ऐसे में उनके द्वारा विधानसभा चुनाव के दौरान बाहरी राज्य के नेताओं के प्रति दिया गया बयान उनके खुद के लिए परेशानी का कारण बन सकता है।

केजरीवाल भी हैं रेस का हिस्सा

केवल ममता बनर्जी ही नहीं है जो 2024 के लोकसभा निर्वाचन में मुख्यमंत्री से सीधा प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रही है। क्या लावा अरविंद केजरीवाल खुद को का हिस्सा मानते हैं। लेकिन बता दें कि उनके साथ भी यही समस्या है कि वह पंजाब और दिल्ली से कभी बाहर नहीं निकल सके हैं। ऐसे में उन दोनों का ही प्रधानमंत्री बनना काफी हद तक असंभव दिखाई पड़ता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker