राष्ट्रीय

तीसरी लहर में बच्चे होंगे प्रभावित: विशेषज्ञों ने नकारा, जानिए क्या कहते हैं विशेषज्ञ

डेस्क: पिछले कुछ समय से अलग राज्यों से बच्चों के संक्रमित (children affected from covid in different states) होने की खबरें आने पर ऐसा अनुमान लगाया जा रहा था कि देश में कोरोना के तीसरे लहर (third wave of covid in country) ने दस्तक दे दी है। पहले से बताया जा रहा था कि तीसरे लहर में बच्चे (effect of third wave in children) अधिक प्रभावित होंगे।

पिछले कुछ दिनों से राजस्थान और मुंबई सहित कई राज्यों से बच्चों के बड़े तादाद में संक्रमित होने की खबरें सामने आ रही हैं। बताया जा रहा है कि यह तीसरे लहर की वजह से हो रही है।

Also Read: कोरोना मरीजों के लिए खतरा बन रहा है ब्लैक फंगस, यह है ब्लैक फंगस के लक्षण

थर्ड वेव से बच्चों को नहीं है खतरा?

हालांकि, विशेषज्ञों ने इस बात को नकारा है। उनके अनुसार बच्चों के संक्रमित होने के पीछे का कारण तीसरा लहर (third wave of covid) नहीं हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि बच्चों के कोरोना से संक्रमित होने के पीछे उनके माता-पिता जिम्मेदार हैं।

माता-पिता में से किसी एक के भी संक्रमित होने पर किसी ना किसी तरह से बच्चे उनके संपर्क में आ जा रहे होंगे। ऐसे में बच्चे भी संक्रमित (effect of third wave in children) हो जा रहे हैं।

Also Read: देश में कोरोना की तीसरी लहर, बच्चे हो रहे हैं शिकार, इन राज्यों में दिखी असर

पूर्व अनुमान लगाना संभव नहीं

इस पर सरकार के ‘राष्ट्रीय टीकाकरण तकनीकी सलाहकार समूह’ (NTAGI) का कहना है कि फिलहाल कोई ऐसे कारण मौजूद नहीं है जिससे यह साबित हो सके कि कोरोना के आने वाले लहर में बच्चे (effect of third wave in children) इससे प्रभावित होंगे।

विशेषज्ञों का मानना है कि इस वक्त पूर्व अनुमान लगाना संभव नहीं है कि कोरोना के तीसरे लहर का असर किस आयु वर्ग पर अधिक पड़ेगा। फिर भी सभी को सावधानी बरतने की सलाह दी गई है।

Also Read: देश में कोरोना की तीसरी लहर, बच्चे हो रहे हैं शिकार, इन राज्यों में दिखी असर

बच्चों के संक्रमण होने की संभावना

अभी तक इस बात के कोई सबूत नहीं मिले हैं कि कोरोना की तीसरी लहर बच्चों पर अपना प्रभाव दिखाएगी। दरअसल जहां इतने बड़े संख्या में युवा और वयस्क कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं, बच्चों का भी इससे (effect of third wave in children) संक्रमित होना आम बात है।

कोरोना के पहले व दूसरे लहर में बच्चों के संक्रमित होने के मामले काफी कम देखे गए हैं। ऐसे में इस बात की संभावना काफी कम है कि तीसरे लहर में बच्चे भी संक्रमित होंगे।

Also Read: डेढ़ दशकों तक भारतीय सिनेमा में राज करने वाली धकधक गर्ल ‘माधुरी दीक्षित’

बच्चों की सुरक्षा के लिए जारी हुई एडवाइजरी

हालांकि जिन बच्चों को पहले से कोई बीमारी हुई तो उन पर इसका असर (effect of third wave in children) देखने को मिल सकता है। बता दें कि पहले वह दूसरे लहर में जो बच्चे स्वस्थ हैं, उनमें बहुत कम संक्रमण के मामले देखने को मिले।

कोरोना के तीसरे लहर में बच्चों की सुरक्षा को लेकर पिछले दिनों महाराष्ट्र में बाल रोग विशेषज्ञों की एक बैठक हुई। इस बैठक में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भी उपस्थित थे। बैठक के दौरान कोरोना के तीसरे लहर से बच्चों को (effect of third wave in children) सुरक्षित रखने के लिए किए जाने वाले हर आवश्यक कार्यों पर चर्चा हुई।

Also Read: आ चुका है कोरोना का थर्ड वेव, ऐसे रखें बच्चों को सुरक्षित

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker