पश्चिम बंगाल

कल तक मोदी संग बैठक के लिए तैयार ममता बनर्जी अचानक भड़कीं, तूफान को लेकर बैठक में नहीं होंगी शामिल

डेस्क: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बंगाल आएंगे उनके साथ बैठक के लिए कल तक बंगाल के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी तैयार थीं। उन्होंने पत्रकारों को स्वयं इस बात की जानकारी दी थी। लेकिन अचानक से शुक्रवार सुबह सुबह पीएम के आने के पहले खबर आई कि मुख्यमंत्री नाराज हो गई हैं और वह बैठक में शामिल नहीं होंगी।

आपको बता दें कि चक्रवाती तूफान यास से हुई क्षति का जायजा लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बंगाल दौरे पर आएंगे। वह कलाइकुंडा में राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ बैठक के लिए पहुंचेंगे। गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस बात की जानकारी दी थी, लेकिन शुक्रवार सुबह में राज्य सचिवालय से आई सूचना में बताया जा रहा है कि ममता बनर्जी प्रधानमंत्री के साथ बैठक में शामिल नहीं होंगी।

Also Read: 1 जून के बाद भी इन राज्यों में जारी रहेगा लॉकडाउन, कड़ाई से पालन होगा लॉकडाऊन

वह इसलिए कि उस बैठक में राज्य के विपक्षी दल के नेता शुभेंदु अधिकारी भी शामिल हो सकते हैं। इसी बात से मुख्यमंत्री ने नाराजगी जताई।

mamata will not attend the meeting in the presence of suvendu adhikari

Also Read: इस देश के राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री हो गये थे गिरफ्तार, दुनियाभर के दबाव के बाद हुए रिहा

सूत्रों के हवाले से मिली सूचना के अनुसार सचिवालय में मुख्यमंत्री ने नाराजगी जताते हुए कहा है कि अगर उस बैठक में शुभेंदु अधिकारी रहेंगे तो वह उसमें शामिल नहीं होंगी। शुक्रवार सुबह दक्षिण 24 परगना में ममता बनर्जी, मुख्य सचिव अलापन बंदोपाध्याय के साथ दौरा करने पहुंची थी। वहां से सीधे उनके कलाइकुंडा पहुंचने की बात थी, जहां वह प्रधानमंत्री के साथ बैठक में भाग लेने वाली थीं।

बैठक में और भी कई सदस्यों के रहने का जिक्र है, इसीलिए वह उस बैठक में शामिल होना नहीं चाहती। तृणमूल कांग्रेस के पूर्व नेता व वर्तमान में बीजेपी विधायक शुभेंदु अधिकारी बैठक में उपस्थित रहेंगे, इस बात की जानकारी मिलने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने साफ तौर पर कह दिया कि अगर उस तालिका से शुभेंदु का नाम नहीं हटाया गया तो वह कलाइकुंडा नहीं जाएंगी। वह हेलीकॉप्टर घुमा कर सीधे दीघा पहुंच जाएंगी।

Also Read: चुनाव के बाद पहली बार ममता से मिलेंगे मोदी, साथ मिलकर करेंगे हवाई सर्वेक्षण

tapas roy tmc

मुख्यमंत्री के इस निर्णय को सही बताते हुए तृणमूल नेता तापस राय ने कहा, ममता उचित तौर पर विरोध कर रही हैं। आमतौर पर इस तरह की बैठक में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री भी रहते हैं। अगर इसमें राजनीतिक उद्देश्य से कोई शामिल होता है तो उसे स्वीकार नहीं किया जाएगा। उसमें किसी विधायक को क्यों बुलाया जाएगा। इसकी क्या जरूरत है।

Also Read: जानिए क्या होगा अगर एक टीका कोविशील्ड और दूसरा टीका कोवैक्सीन का लगे?

वही बैठक में विरोधी दल के नेता को बुलाए जाने को बीजेपी नेता जयप्रकाश मजूमदार ने लोकतांत्रिक निर्णय बताया। उन्होंने कहा विरोधी दल के नेता रहेंगे, यह स्वाभाविक बात है। भारत के लोकतंत्र में विरोधी दल के नेता का महत्व है। इसी से एक स्वस्थ लोकतंत्र बनता है।

वहीं इस बैठक में केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और देवश्री चौधुरी भी मौजूद रहेंगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker