पश्चिम बंगाल

कोलकाता में बच्ची से दुष्कर्म व हत्या, पूर्व आइपीएस अधिकारी ने बताया पुलिस ने बरती लापरवाही, मांगा ममता बनर्जी का इस्तीफा

कहा, इस अतिसंवेदनशील घटना में पुलिस व प्रशासन ने घोर लापरवाही बरती

डेस्क: कोलकाता के जोड़ाबागान थाना इलाके के वैष्णव सेठ स्ट्रीट में आठ वर्षीया एक बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म के बाद निर्मम हत्या की घटना में भाजपा ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का इस्तीफा मांगा है. इस जघन्य घटना को लेकर पूर्व आइपीएस अधिकारी व भाजपा नेता भारती घोष ने दुख जताते हुए राज्य की ममता बनर्जी सरकार की जम कर आलोचना की.

उन्होंने कहा, इस अतिसंवेदनशील घटना में पुलिस व प्रशासन ने घोर लापरवाही बरती है. ऐसी घटना आज तक नहीं हुई थी. कोलकाता में पहली बार मध्ययुगीय बर्बरता देखने को मिली है. यौन लालसा में एकदम छोटी बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या की गयी.

मुख्यमंत्री महिला, विधायक भी महिला, फिर भी मामले में लापरवाही

उन्होंने कहा कि राज्य में मुख्यमंत्री महिला है, जिस इलाके में घटना हुई, वहां की विधायक शशि पांजा, जो कि राज्य में शिशु कल्याण विभाग की मंत्री है, वह भी महिला है. इसके बावजूद एक बच्ची के साथ इस तरह की जघन्य घटना होती है और पुलिस इसकी जांच में घोर लापरवाही बरतती है.

राज्य में प्रशासन महिलाओं को सुरक्षा देने की जगह सत्ताधारी दल की चमचागीरी करने में लगा हुआ है. पुलिस दलाल बन गयी है. भाजाप नेता ने कहा, मैं महिला व बच्ची की सुरक्षा से खिलवाड़ करने के लिए महिला मुख्यमंत्री का इस्तीफा मांगती हूं. उनके नेतृत्व में बंगाल अपराध और भय का राज्य बन गया है.

न किया इलाका सील, न पुहंचे वरिष्ठ अधिकारी

ऐसी घटनाओं में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का दायित्व है कि वह घटनास्थल पर पहुंचे, ताकि जांच में तेजी आये और अपराधी इलाके से फरार होने से पहले पुलिस की गिरफ्त में आये. इस मामले में जोड़ाबागान थाने की पुलिस समय से मौके पर नहीं पहुंची. त्वरित कार्रवाई भी नहीं की गयी. कमिश्नर सहित बड़े अधिकारियों को मौके पर आना चाहिए था, लेकिन वह नहीं गये.

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker