उत्तर प्रदेश

विकास दुबे पर था 5 लाख का ईनाम, किसे मिलेगी ये राशि

डेस्क: यूपी पुलिस ने विकास दुबे पर पांच लाख का इनाम घोषित कर रखा था. ऐसे में सवाल उठ रहा है कि अब वो पांच लाख का इनाम किसे मिलेगा कौन बनेगा लखपति? विकास दुबे यूपी पुलिस के हाथों एनकाउंटर में मा’रा गया. इस से पहले शातिर बदमाश यूपी पुलिस को चकमा दे कर उज्जैन चला गया था. उज्जैन के महाकाल मंदिर से उसे गिरफ्त में लिया गया था. ऐसे में उस पर घोषित किया गया पांच लाख का इनाम किसे मिलेगा, इस बात पर चर्चा तेज हो गई है.

दरअसल, विकास दुबे के गिरफ्तारी के बाद इस इनाम के अलग-अलग दावेदार माने जा रहे हैं. इनमें सबसे ऊपर नाम है महाकाल थाना पुलिस का. जिन्होंने विकास को महाकाल मंदिर परिसर से गिरफ्तार किया. मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी अपने बयान में यही बताया कि उज्जैन पुलिस पहले से अलर्ट थी, उन्हें जैसे ही जानकारी मिली तुरंत विकास दुबे को पकड़ लिया.

Vikas dubey

फिर दावेदार हो सकते हैं महाकाल मंदिर के सुरक्षाकर्मी. क्योंकि एक गार्ड ने बताया कि उसने संदिग्ध हालात में विकास को वहां घूमते देखा तो उसे टोका. उसका पहचान पत्र मांगा. जब उसने आनाकानी की तो उसने वहीं परिसर में मौजूद पुलिस चौकी से पुलिसकर्मियों को बुला लिया. इसके बाद पुलिसकर्मी वहां पहुंचे और उसे गिरफ्तार कर लिया.

महाकाल मंदिर के पुजारी महेश ने बताया कि वो मंदिर आया. नियमानुसार पूजा अर्चना की. सभी पुजारी कोरोना के खात्मे के लिए सामूहिक पूजन कर रहे थे. तभी इसे देखकर सभी को कुछ शक हुआ. सभी पुजारियों ने सुरक्षाकर्मियों के साथ इस संबंध में चर्चा की. मंदिर परिसर में उसकी संदिग्ध अवस्था देखकर पुलिस को सूचना दी गई और उसे पकड़ लिया गया.

उज्जैन के कलेक्टर ने दुकानदारों का जिक्र किया है, जो विकास को देख रहे थे. उन्हें उसका आचरण कुछ संदिग्ध लगा तो उन्होंने सुरक्षाकर्मियों को इस बारे में बताया था. डीएम के अनुसार सुबह करीब साढ़े सात बजे विकास उज्जैन के महाकाल मंदिर पहुंचा. कलेक्टर के मुताबिक, वहां उसने मंदिर में प्रवेश की पर्ची ली, जिसके बाद कुछ लोगों ने सुरक्षाकर्मियों को इसके बारे में बताया.

बताया जा रहा है कि उज्जैन की स्थानीय मीडिया और पुलिस को इस बारे में ख़बर थी. विकास दुबे जैसे ही मंदिर से बाहर निकला. उससे पूछताछ की गई. जब पुलिस ने विकास दुबे से आईडी मांगी, तो बहस करने लगा. इसके बाद पुलिस ने उसे पकड़ लिया, इस दौरान विकास दुबे मंदिर के सामने अपना नाम चिल्ला रहा था. फिर उज्जैन पुलिस उसे गाड़ी में बैठाकर किसी अज्ञात जगह पर ले गई। गाड़ी में बैठते हुए विकास दुबे जोर से चिल्लाया “मैं विकास दुबे हूं.. कानपुर वाला. इन्होंने पकड़ लिया है मुझे.”

मध्य प्रदेश के उज्जैन में विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद इनाम को लेकर सवाल उठना लाजमी था. लिहाजा यूपी की राजधानी लखनऊ में जब एजीडी (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार से जब सवाल पूछा कि जो पांच लाख की इनाम राशि है, क्या मध्य प्रदेश पुलिस को जाएगी? ADG ने इस पर जवाब देते हुए कहा “ये चीजें आगे होंगी, इसके बारे में अभी परीक्षण होगा. देखते हैं, जो कार्रवाई होगी वो बताएंगे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker