पश्चिम बंगालराजनीति

अमित शाह फिर आएंगे बंगाल, जानें इस बार क्या है उनका प्लान

डेस्क: भाजपा के चाणक्य माने जानेवाले देश के गृह मंत्री अमित शाह राजनीति के उन धुरंधरों में हैं, जिनकी आहट से ही विरोधियों का दिल घबराने लगता है.

उनके हाव भाव और उनके प्रति विरोधियों का रवैया देख कर, जेहन में अमिताभ बच्चन की फ़िल्म ‘शहंशाह’ का उस सीन का आना लाजमी है, जिसमें दुश्मनों के सामने शहंशाह की जबर्दश्त एंट्री होती है और वह कहता है ‘रिश्ते में तो हम तुम्हारे..नाम है शहंशाह’ और दुश्मनों की सांसे फूलने लगती है, माथे पर पसीना आ जाता है.

इन दिनों बंगाल के चुनावी जंग के मैदान भी अमित शाह की एंट्री कुछ इसी तरह हो रही है. वह बंगाल आते हैं तो यहां जबर्दश्त हलचल मच जाती है. राज्य की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस व अन्य विरोधी पार्टियों के बड़े नेताओं को अपनी पार्टी में शामिल करा करके मंच से शहंशाह के अंदाज में ही विरोधियों को ललकारते हैं.

आपको बता दें कि श्री शाह की छवि ‘जो कहते हैं, करके दिखाते हैं’ वाली बन गयी है. उन्होंने पार्टी को लगातार विभिन्न चुनावों में जीत दिला कर यह साबित भी किया. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लंबे समय के सिपहसालार के हाथों में आज न सिर्फ देश के आंतरिक मामलों की बागडोर है, बल्कि भारतीय जनता पार्टी का परचम पूरे भारतवर्ष में लहराने का दायित्व भी है.

बड़ी-बड़ी चुनौतियों का सामना कर उस पर फतह पाने का दमखम रखनेवाले गुजरात के इस मोटा भाई ने बंगाल में भगवा झंडा लहराने का संकल्प लिया है. उन्होंने 200 से अधिक सीट जीतने का टारगेट रखा है. उसी टारगेट को पूरा करने के लिए वह लगातार बंगाल दौरे पर आ रहे हैं. इस बार वह 18 और 19 फरवरी को फिर बंगाल आ रहे हैं. वह 18 और 19 फरवरी को बंगाल में ही रहेंगे तथा रोड शो में हिस्सा लेंगे.

शरणार्थी परिवार के यहां लंच भी करेंगे

शाह जब-जब बंगाल आते हैं, वह कभी किसानों के घर भोजन करते हैं, तो कभी पिछड़े समुदाय के यहां भोजन करते हुए नजर आते हैं. सूत्रों की माने तो इस बार अपने दौरे के दौरान वह एक शरणार्थी परिवार के घर पर लंच करेंगे. ऐसा करना उनके लिए इसलिए खास है क्योंकि बांग्लादेश से आए हुए शरणार्थियों को नागरिकता देने की प्रक्रिया शुरू करने की बात शाह ने एक जनसभा के दौरान कही थी.

पिछली बार परिवर्तन यात्रा के चौथे चरण का किया था शुभारंभ
आपको बता दें कि पिछली बार 11 फरवरी को अमित शाह बंगाल के दौरे पर आए हुए थे. इस दौरान उन्होंने कुछ बिहार से परिवर्तन यात्रा के चौथे चरण का शुभारंभ भी किया था. इसी के साथ उन्होंने साइंस सिटी में सोशल मीडिया वॉलिंटियर्स के साथ बैठक भी की थी.

परिवर्तन यात्रा के पांचवें चरण को दिखाएंगे हरी झंडी

सूत्रों की मानें तो 18 फरवरी को अमित शाह सुबह के 10:00 बजे रासबिहारी एवेन्यू में स्थित भारत सेवाश्रम संघ जाएंगे. इसके बाद उनके गंगा सागर में स्थित कपिल मुनि आश्रम में जाने की भी संभावना है. साथ ही वह नामखाना के इंदिरा मैदान से परिवर्तन यात्रा के पांचवें चरण को भी हरी झंडी दिखाएंगे.

नेशनल लाइब्रेरी में शहीदों को देंगे श्रद्धांजलि

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शरणार्थी परिवार के घर पर लंच करने के बाद नामखाना के श्मशान काली मंदिर से रोड शो की शुरुआत करेंगे. 19 फरवरी के दिन गृह मंत्री अमित शाह कोलकाता के नेशनल लाइब्रेरी में बंगाल के शहीदों को श्रद्धांजलि भी देंगे.

गौरतलब है कि इस बार के बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव में किसी प्रकार की कमी ना रह जाए, इसे सुनिश्चित करने के लिए शाह नियमित रूप से बंगाल के दौरे पर आ रहे हैं.

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker