राष्ट्रीय

रियायत के साथ लॉकडाउन-2 की घोषणा कर सकते हैं पीएम मोदी

प्रधानमंत्री लॉकडाउन-2 की घोषणा 13 अप्रैल को कर सकते हैं

डेस्क: पीएम नरेंद्र मोदी 13 अप्रैल सोमवार को देश की जनता को संबोधित करके लॉकडाउन-2 की घोषणा कर सकते हैं। लॉकडाउन-2 में कृषि, चिकित्सा, मत्स्य पालन, कपड़ा समेत कुछ क्षेत्रों में छूट दे सकते हैं, पर इसकी पहली शर्त सोशल डिस्टेसिंग (Social Distancing) और साफ सफाई (Cleanliness) का कड़ाई से पालन करना। पीएम मोदी इस क्षेत्र में काम पर बाहर निकलने वाले लोगों को मुंह पर साफ तौलिया (Clean Towel), रूमाल बांधने या मास्क (Mask) लगाने की सलाह दे सकते हैं।

बता दें कि मंगलवार 14 अप्रैल को लॉकडाउन फेस-1 खत्म हो रहा है। सूत्रों का कहना है कि इसके ठीक पहले 13 अप्रैल को प्रधानमंत्री लॉकडाउन-2 की घोषणा करते हुए जनता को फिर से आत्म-अनुशासन का पाठ पढ़ाएंगे।

ख़बरों के मुताबिक कपड़ा निर्माता कंपनी रेमंड भी कोविड-19 से जंग लड़ने के लिए कुछ संसाधन बना रही है। इसी तरह से टेक्सटाइल क्षेत्र से जुड़ी कुछ कंपनियां मास्क, बेडशीट समेत अन्य जरूरी सामान की आपूर्ति में आगे आयी हैं। बताते चलें कि वेंटिलेटर बनाने के लिए आगे आई कुछ कंपनियों को कच्चे माल के क्षेत्र में दिक्कतों का सामना कर पड़ रहा है।

बीडीएल (BDL), बीईएल (BEL) जैसी पीएसयू भी कोविड-19 से मुकाबले में सरकार का साथ दे रही हैं। इसलिए केंद्र सरकार को इन्हें कुछ शर्तों के साथ लॉकडाउन से छूट देने का निर्णय लेना पड़ सकता है।

कई राज्यों में मत्स्य पालन (Fisheries) जीविका से जुड़ा और अहम हिस्सा है, लॉकडाउन से इस पर बुरा असर पड़ा है। दक्षिण भारत, खासकर केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, पुड्डुचेरी, आंध्र प्रदेश आदि इलाके के लिए इसकी खासी उपयोगिता है। एक्वा क्षेत्र में भी लोगों को पीने का साफ पानी मिलना बड़ी समस्या बन रहा है। ऐसे सभी क्षेत्रों को सरकार लॉकडाउन फेस-2 में शर्तों के साथ राहत दे सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker