उत्तर प्रदेशटेक्नोलॉजी

यूपी पुलिस ने दिया मोबाइल से 52 चाइनीज ऐप्स हटाने का निर्देश

डेस्क: चीन की सीमा पर लद्दाख में गलवान घाटी के पास पिछले सोमवार को हुई हिंसक झड़प में भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद से ही पूरे देश में चीनी उत्पादों को बैन करने की मांग जगह-जगह उठने लगी. पूरे देश भर में चीन के खिलाफ प्रदर्शन हुए. इसी बीच उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की पुलिस ने एक काफी सराहनीय निर्णय लिया. उत्तर प्रदेश के पुलिस आलाकमान ने आदेश देते हुए कहा कि राज्य के सभी पुलिस अधिकारी व कर्मचारी अपने मोबाइल से सभी चाइनीस ऐप अनइनस्टॉल्ड कर देंगे. इसके लिए राज्य के आईजी और एसएसपी और सीओ एसटीएफ कुछ जिम्मेदारी दी गई. इस निर्देश को पूरे राज्य में अमल में लाएं.

उत्तर प्रदेश पुलिस की ओर से ऐसे ऐप्स जो चीनी है, उसकी एक लिस्ट जारी की गयी है. इस लिस्ट में 52 चाइनीज मोबाइल ऐप हैं, जिनको पुलिस महकमे में प्रतिबंधित कर दिया गया है. इन मोबाइल एप्स में प्रचलित एप्स है टिक टॉक, यूसी ब्राउजर, हेलो और भी कई सारे. पुलिस आलाकमान के इस निर्देश के पीछे तर्क यह दिया गया है कि ऐसे एप्स हमारे मोबाइल से डाटा चोरी करते हैं. चीन इन एप्स एप्स का इस्तेमाल कर बड़े पैमाने पर साइबर अटैक कर सकता है. ऐसे में पुलिस प्रशासन के लोगों के मोबाइल से इस तरह के ऐप्स अनइनस्टॉल करने की तैयारी है, क्योंकि सरकारी कर्मचारी व अधिकारियों के पास सरकार प्रशासन से जुड़ी कई अहम जानकारी होती है, जिसका आदान-प्रदान वह आपस में मोबाइल फोन के जरिए भी करते हैं. चीनी एप्स के जरिए यह गुप्त जानकारी, हमारे सामरिक मामलों की जानकारी चीन के हाथ लग सकती है.

उत्तर प्रदेश के एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार और यूपी एसटीएफ पुलिस महानिरीक्षक अमिताभ यश की तरफ से यह निर्देश जारी किया गया है. इसमें केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय के दिशा निर्देशों का हवाला दिया गया है. इसमें बताया गया है कि यह केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय की ओर से जारी निर्देश के अनुसार पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों के लिए अनिवार्य है. इसमें ना सिर्फ अधिकारियों व कर्मचारियों को अपने मोबाइल फोन से चाइनीज एप्स हटाने होंगे. उन्हें अपने परिवार के सदस्यों के मोबाइल से भी इस तरह के एप्स को हटाने पड़ेंगे. यह कदम देश की साइबर सुरक्षा के लिए अहम माना जा रहा है.

Apps

आपको बता दें कि गृह मंत्रालय की ओर से ऐसे 52 एंड्राइड मोबाइल एप्स की पहचान की गई है, जिससे देश की सुरक्षा को खतरा है. सुरक्षा एजेंसियों की मानें तो इन एप्स के जरिए हमारे बैंक खातों में भी सेंध मारने की तैयारी है.

गौरतलब है कि लोगों से अपील की जा रही है कि चीन से जुड़े उत्पाद ही नहीं, चीन से जुड़े ऐसे मोबाइल ऐप को तत्काल अपने मोबाइल से लोग अनइनस्टॉल्ड कर दें. इसी के मद्देनजर उत्तर प्रदेश सरकार के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर ने पुलिसकर्मियों को चाइनीज ऐप तत्काल प्रभाव से डिलीट करने का आदेश दिया.

यह रही चाइनीज मोबाइल ऐप्स की सूची

टिक टॉक, बोल्ट, हाइट, विगो वीडियो, विगो लाइव, वाइबो, वीचैट, शेयर इट, यूसी न्यूज़, यूसी ब्राउजर, ब्यूटी प्लस, जेंडर, क्लब फैक्ट्री, हेलो, लाइकी, क्वॉई, रोमवी, साइन, न्यूज़ डॉग, फोटो वंडर व अन्य.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker