मनोरंजन

बेरोजगार नेता कन्हैया कुमार के नाम है इतनी संपत्ति, जानकर आप भी रह जाएंगे दंग

 

डेस्क: 2 जनवरी 1987 को जन्मे कन्हैया कुमार एक प्रसिद्ध नेता है। उनका जन्म बिहार के बेगूसराय जिले के बिहट गांव में हुआ था। उनके पिता का नाम जयशंकर सिंह है। उनका जन्म जिस विधानसभा क्षेत्र में हुआ वह भाकपा का गढ़ माना जाता है। इनकी मां मीना देवी एक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता है। कन्हैया कुमार के बड़े भाई का नाम मणिकांत है। वह असम की एक कंपनी में सुपरवाइजर है।

परिवार करता है भाकपा का समर्थन

शुरुआत से ही उनका पूरा परिवार भाकपा का समर्थन करते आ रहे हैं। कन्हैया कुमार जेएनयू के भी नेता रह चुके हैं। कई बार उन पर देशद्रोह के भी आरोप लगाए गए लेकिन उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाएं कभी भी उन्हें डरा नहीं सकती है। अक्सर कहते हैं कि “आप मुझे मार सकते हैं, आप मुझे चुप करा सकते हैं, लेकिन आप मुझे डरा नहीं सकते।”

जेएनयू की छात्रा के साथ दुर्व्यवहार का आरोप

सितंबर 2015 में कन्हैया कुमार एआईएसएफ का प्रतिनिधित्व करते हुए जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष बने। इसके बाद उन पर आरोप लगाया गया कि उन्होंने जेएनयू के छात्र के साथ दुर्व्यवहार कर उसे धमकी दी है। बताया जाता है कि एक बार कन्हैया कुमार कर रहे थे और गाली गलौज भी कर रहे थे। जिसका विरोध करने पर एक छात्रा को उन्होंने धमकाया और उसके साथ दुर्व्यवहार भी किया। हालांकि एआईएसएफ के अनुसार यह कन्हैया कुमार को बदनाम करने का एक प्रयास था।

भारतीय सेना पर लगाया आरोप

कहीं बाहर कन्हैया कुमार अपने द्वारा दिए गए बयानों के कारण विरोध का सामना करते हैं और उनकी आलोचना भी होती है। 8 मार्च 2016 को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में आयोजित एक कार्यक्रम में बोलते हुए कन्हैया ने भारतीय सेना के सैनिकों पर गंभीर आरोप लगाए थे। उनका कहना था कि भारतीय सैनिक कश्मीर में महिलाओं के साथ दुष्कर्म करते हैं। उनके इस बयान का भारतीय जनता युवा मोर्चा ने राष्ट्र विरोधी बताते हुए इसकी आलोचना की थी। इस वजह से कन्हैया कुमार के कारण इतना केक सिविल कोर्ट में मानहानि और देशद्रोह का मुकदमा भी दायर किया गया था।

कितनी संपत्ति के मालिक हैं कन्हैया कुमार

अधिकारिक सूत्रों के अनुसार कन्हैया कुमार की संपत्ति लगभग 6 लाख रुपए की है। कन्हैया कुमार केवल राजनीति करते हैं। वह किसी पद पर कार्यरत नहीं है। ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि वह बेरोजगार है। कोई काम ना करने के बाद भी उनकी कुल संपत्ति 6 लाख रुपए की है। यह जानकारी उन्होंने खुद 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले चुनाव आयोग को दिया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker