बिहार

पिता दिहाड़ी मजदूर, बेटे को मिली 2.5 करोड़ की स्कॉलरशिप, बिहार के प्रेम कुमार की सफलता की कहानी

 

डेस्क: बिहार के एक गांव के एक 17 वर्षीय दलित छात्र प्रेम कुमार को अमेरिका के पेनसिल्वेनिया के एक प्रतिष्ठित कॉलेज में पढ़ने के लिए छात्रवृत्ति मिली है। बता दें कि प्रेम कुमार बिहार की राजधानी पटना के पास स्थित फुलवारीशरीफ गांव के गोनपुरा कसबे के रहने वाले हैं। उनके पिता एक दिहाड़ी मजदुर हैं।

Also Read: मात्र 2500 रुपये के निवेश से महिला ने शुरू किया बिजनेस, आज है करोड़ों की बिजनेस की मालकिन

Dexterity Global के संस्थापक ने प्रेम को सराहा

उन्होंने डेक्सटेरिटी ग्लोबल ग्रुप के माध्यम से छात्रवृत्ति प्राप्त की। यह एक ऐसा संगठन जिसने भारत के सबसे दूरस्थ हिस्सों से छात्रों को शिक्षा का अवसर देने का प्रयास किया है।

Prem-Kumar-from-Bihar-got-a-scholarship-of-2.5-crore

Dexterity Global के संस्थापक, शरद विवेक सागर के लिंक्डइन पेज पर कहा गया है, “डेक्सटेरिटी के पूर्व छात्रों ने प्रमुख राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार जीते हैं, और दुनिया के शीर्ष कॉलेजों से 720 मिलियन रुपये से अधिक की स्कॉलरशिप प्राप्त की है। इनमें से 85% से अधिक बच्चे निम्न-आय वाले परिवारों से आते हैं।”

Also Read: पोर्न फ़िल्में बनाने के आरोप में पति की गिरफ्तारी के बाद अब ऐसा है शिल्पा शेट्टी का जीवन, इतनी है संपत्ति

यह उपलब्धि हासिल करने वाले भारत का पहला महादलित छात्र

सागर ने सोशल मीडिया पर घोषणा की कि बिहार के प्रेम कुमार को 2.5 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति मिली है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि प्रेम कुमार यह उपलब्धि हासिल करने वाले भारत का पहला महादलित छात्र है।

17-years-old-Prem-Kumar-from-Bihar-got-a-scholarship-of-2

Also Read: करोड़ों की संपत्ति के मालिक हैं यश, लेकिन फिर भी पिता चलाते हैं बस, पत्नी भी हैं बेहद उदार

2.5 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति पाने के बाद प्रेम ने कहा, “मेरे माता-पिता कभी स्कूल नहीं जा सकते थे। यह अविश्वसनीय है। बिहार में महादलित बच्चों के लिए काम कर रहे डेक्सटेरिटी ग्लोबल संगठन बहुत ही सराहनीय है। उन्हीं की वजह से मुझे आज यह सफलता मिली है। मैं बहुत खुश हूं।”

Also Read: एक ही नोट्स से दो बहनों ने एक साथ क्रैक किया UPSC, बताया कैसे की तैयारी

17-years-old-Prem-Kumar-got-a-scholarship-of-2

साल के अंत तक जायेंगे पेंसिल्वेनिया

ज्ञात हो कि प्रेम कुमार अपने परिवार में पहली पीढ़ी के कॉलेज-छात्र हैं। उनके परिवार में उनसे पहले आज तक कोई भी कॉलेज नहीं गया है। वर्तमान में 12वीं कक्षा के छात्र प्रेम इस साल के अंत तक लाफायेट कॉलेज में मैकेनिकल इंजीनियरिंग और अंतर्राष्ट्रीय संबंधों में स्नातक की डिग्री हासिल करने के लिए पेंसिल्वेनिया चले जाएंगे।

Also Read: इस व्यक्ति के बिजनेस आइडिया ने युवाओं के करियर में ला दी क्रांति, आज है 85 हजार करोड़ की कंपनी का मालिक

हर खर्च को कवर करेगी छात्रवृत्ति

प्रेम दुनिया भर में प्रतिष्ठित ‘डायर फैलोशिप’ के लिए चुने गए केवल छह छात्रों में से एक है। 2.5 करोड़ रुपये की यह छात्रवृत्ति उनके स्नातक कार्यक्रम से संबंधित प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से होने वाले हर खर्च को कवर करेगी, जिसमें ट्यूशन फीस, आवास, यात्रा खर्च, स्वास्थ्य बीमा और पाठ्यक्रम की किताबें भी शामिल हैं।

Also Read: इन संघर्षों के बाद चाय बेचने वाला बना IAS, बिना कोचिंग के सिविल सेवा परीक्षा में पाई सफलता

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker