उत्तर प्रदेश

यूपी में मिलेंगे 1.2 करोड़ युवाओं को रोजगार, जानिए कैसे?

डेस्क, एमएसएमई के क्षेत्र में बड़ी क्रांति नजर आ रही है. वर्ष 2021-22 में केंद्रीय बजट में बड़ी क्रांति नजर आ रही है. उत्तर प्रदेश में इस साल करीब 33 लाख एमएसएमई स्थापित होंगे. उत्तर प्रदेश में केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों मिलकर वहां के उद्योगों को बड़ा करने के लक्ष्य के आधार पर काम कर रहे है.

इन नए उद्योगों की स्थापना से राज्य में करीब 1.20 करोड़ नए रोजगार बनने की संभावना है. उत्तर प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में केंद्रीय बजट से होने वाले लाभ को राज्य सरकार आम लोगों तक पहुंचा रही है. केंद्रीय मंत्री इन आंकड़ों को आम जनता तक पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं.

एमएसएमई को लेकर हो रही है राजनीति

केंद्र सरकार ने 2021-22 के बजट में एमएसएमई सेक्टर के लिए ₹15,700 करोड़ प्रदान किया है. इस वर्ष में एमएसएमई के लिए कुल 7,500 करोड़ रुपए का प्रावधान बजट में शामिल किया गया था. बताया जा रहा है कि अयोध्या में 100 करोड़ रुपए से भी अधिक लागत से बनेगा नया रेलवे स्टेशन. जिससे वहां आने जाने वाले श्रद्धालुओं को दुनिया की सभी सुविधाएं मिल सके.

केंद्र सरकार ने राज्य सरकार के इस योजना को देखते हुए 50 हजार करोड़ रूपया भी दिया है. साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि राज्य के सभी जिलों में 75 स्वास्थ्य विभाग इंटीग्रिटी बनेंगे.

इस बजट में 84,441 करोड़ रुपए 94 सड़क प्रोजेक्ट को भी दिया जाएगा. मेट्रो नेटवर्क में आगरा के लिए 1,172 करोड़ रुपए और कानपुर के लिए 1,562 करोड़ रुपए दिए गए. जिनमें दिल्ली से गाजियाबाद मेरठ को जोड़ने वाले रीजनल रैपिड रेल प्रोजेक्ट के लिए 4,472 करोड़ रुपए मिले।

उत्तर प्रदेश में रेल पाइप लाइन बिछाने का काम शुरू हो गया है. यहां 1746 किलोमीटर लम्बी 16 नई रेलवे लाइनें बिछाने का काम जारी है. जिसका पूरा खर्च 29,051 करोड़ रुपए है.

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker