उत्तर प्रदेश

गोरखनाथ मंदिर पर हमला करने वाले शख़्स के बारे में ATS ने किया बड़ा खुलासा

 

डेस्क: उत्तर प्रदेश का आतंकवाद निरोधी दस्ता (एटीएस) रविवार रात गोरखनाथ मंदिर हमले के मामले की जांच के लिए मुंबई पहुंची। उक्त मामले की कार्रवाई करते हुए एटीएस को पता चला है कि गिरफ्तार आरोपी अहमद मुर्तजा अब्बासी पिछले तीन साल से अपने परिवार से नहीं मिला था।

एटीएस के अधिकारी नई मुंबई गए जहां अब्बासी अपने परिवार के साथ रहता था। उसके पिता उनका बेटा मानसिक रूप से अस्थिर था। आरोपी के पिता मुनीर अहमद अब्बासी ने बताया, ” अहमद मुर्तजा अब्बासी मानसिक रूप से स्थिर नहीं है। बचपन से ही वह अवसाद से पीड़ित है। उसका इलाज भी किया गया।” उन्होंने कहा, “उसकी ऐसा करने की कोई योजना नहीं थी। उसने अपनी वर्तमान मानसिक स्थिति के कारण ऐसा किया।”

उत्तर प्रदेश पुलिस के मुताबिक, अहमद मुर्तजा अब्बासी ने रविवार रात जबरन गोरखनाथ मंदिर परिसर में घुसने की कोशिश की। विरोध करने पर उसने ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों पर धारदार हथियार से हमला कर दिया।

Daramatic-Attack-in-Gorakhnath-Temple

बताया जा रहा आतंकी हमला

योगी आदित्यनाथ सरकार ने एटीएस को मामले की जांच सौंप दी। एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने कहा, “वह गोरखपुर का रहने वाला है। उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसमें आतंकी कोण हो सकता है।”

यूपी के गृह विभाग ने कहा था कि गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर में पुलिस जवानों पर हमला गहरी साजिश का हिस्सा है और उपलब्ध तथ्यों के आधार पर कहा जा सकता है कि यह एक आतंकी घटना थी।

पुलिस ने बताया कि आरोपी अहमद मुर्तजा अब्बासी को सोमवार को अदालत में पेश करने के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। ज्ञात हो कि गोरखनाथ मंदिर नाथ संप्रदाय का सर्वोच्च पीठ है और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ इस पीठ के महंत हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker